September 16, 2021

What does the Government of India do to improve India’s performance in the Olympics?

 What does the Government of India do to improve India’s performance in the Olympics?

 

 What does the Government of India do to improve India’s performance in the Olympics? : हाल ही में टोकियो ओलंपिक 2020 खतम हुआ है जिसमे भारत का अभी तक का सबसे अच्छा प्रदर्श रहा है । इस बार भारत ने 1 गोल्ड मेडल, 2 सिल्वर और 4 ब्रॉन्ज मेडल जीतकर अपना अभी तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन किया है। हालाकि 2012 में भारत ने 2 सिल्वर और 4 ब्रॉन्ज समेत 6 मेडल जीतकर अच्छा प्रदर्शन किया था।

राज्यसभा में सवाल उड़ाया गया था की भारत सरकार एथलीट को क्या क्या सहाय देते है।

राज्यसभा में पूछें गए सवाल का जवाब देते हुए अनुराग ठाकुर(भारत के खेल मंत्री) ने बताया कि ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों में भारत के प्रदर्शन को अच्छा और  बेहतर बनाने के लिए भारत के खेल मंत्रालय ने सितंबर 2014 में Target Olympic Podium Scheme (TOPS) शुरू की थी।

इस स्कीम से  खिलाड़ियों को टॉप कोच से कोचिंग मिलती है और  खेल से जुड़ी सभी जरूरी चीजों के खरीदने में मदद मिलती है। इसी के साथ आने वाले ओलंपिक में जाने के लिए  आर्थिक सहाय भी मिलती है। इसी के साथ एथलीट को जीवन जरूरी सामान और स्मार्ट फोन जैसी टेक्निकल चीज भी दी जाती है।

अनुराग ठाकुर ने बताया की कोर ग्रुप के एथलीट को हर महीने 50 हजार रुपए और डेवलपमेंट ग्रुप को 25 हजार रुपये दिए जाते है। अभी के टाइम में, कोर ग्रुप में हॉकी टीम (महिला-पुरुष दोनों) को मिलाके 162 एथलीट, और डेवलपमेंट ग्रुप में 254 एथलीटों  है।
 

अनुराग ठाकुर ने TOPS योजना के ऊपर किस साल किया खर्चा किया यह भी बताया            
 
 2018-19 में 14.31 लाख करोड़ रुपये खर्च किए गए, 2019-20 में 12.41 लाख करोड़, 2020-21 में 15.65 लाख करोड़ रुपये खर्च किए थे, 2021-22 में 4 अगस्त तक स्कीम के तहत 12.48 लाख करोड़ रुपये खर्च किए जा चुका है।
 इसी के साथ अनुराग ठाकुर ने बताया की TOPS के अलावा और भी योजना है जैसे की नेशनल स्पोर्ट्स फेडरेशन स्कीम(NSF) और खेलो इंडिया ।

 अनुराग ठाकुर ने बताया की NSF स्कीम में भी कई रुपए दिए गए है।

 * 2018-19 में 244 करोड़ रुपये दिए गए थे।

 * 2019-20 में 301 करोड़,

 *  2020-21 में 152 करोड़,

 *  2021-22 में 4 अगस्त तक 20 करोड़ रुपये से ज्यादा दिए जा चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *